Categories
Education

खुशियों की चाहत हर कीसी को होता है. हर कोई चाहता है कि उसकी जिंदगी में

खुशियों की चाहत हर कीसी को होता है. हर कोई चाहता है कि उसकी जिंदगी में कभी कोई कमी ना रहे.सुख की तलाश हर कोई करता है.

हर कोई अपने सपनों को पूरा करना चाहता है.अगर इतना सब कुछ जिंदगी में किसी को हासिल हो जाए. फिर तो उसकी जिंदगी में खुशियों की बहार आ जाएंगी.

पर यह सब कुछ कैसे हासील होगा,कैसे पूरे होंगे सपने, कैसे मिलेगी हमारी जिंदगी में खुशियां और कैसे होगी खत्म दुख की तलाश.

अगर जानना चाहते हैं तो पढ़ते रहिए इस लेख को आखिर तक, क्योंकि कुछ एसी चीज़ेे हैं जो आपके जिंदगी को बर्बाद कर रहे हैं.

अगर इन सब चीजों से कोई बचा सकता है तो वह है आप खुद,क्या आप जानते हैं कि इंसान के पास जो सबसे बड़ी ताकत है,वह क्या है?

उसका नाम है अवचेतन मन, यह जितना ताकतवर है उतना ही कमजोर भी है। इसको सही और गलत का कोई फर्क नहीं मालूम.इसे जैसा आप प्रोग्राम करेंगे यह वैसा ही आपको बना देगा.

यह बिल्कुल एक कंप्यूटर की तरह है इस में आप जैसा इनपुट डालेंगे,वैसे ही आपको आउटपुट तोदेगा.तो आइए बात करते हैं उन चीजों की जो आपके अवचेतन मन द्वारा आप को बर्बाद कर रही हैं.

एक आदत है आलस अगर मैं आज खुद से कहूं कि मेरा काम करने का मन नहीं है,तो देखिए आलस का प्रोग्राम मेरे अवचेतन मन में इस विचार को इस तरह बड़ा कर देगा कि आज सच में हमसे कोई काम नहीं होगा.

इस प्रयोग को खुद पर कर के देखिए, आपको इसका असर समझ में आ जाएगा…

और अगर अब आप जिंदगी में कामयाब होना चाहते हैं.तो हर रोज आपको ठीक इसका उल्टा करना है.तो हर रोज आपको सुबह,खुद से कहना है कि आज हमें हर रोज से ज्यादा काम करना है.और फिर देखीए क्या कमाल होता है. आपका अवचेतन मन, आपको अपने आप ज्यादा के लिए प्रोग्राम कर देगा.

और यह भी एक आदत है सोचने की, अगर हम कहें कि आज हम नहीं सोचेंगे तो यह मुमकिन नहीं है.क्योंकि सोचना दिमाग के प्रक्रिया है.यह आप पर निर्भर है कि आप गलत भी सोच सकते हैं और सही भी सोच सकते हैं.

आप अच्छा भी सोच सकते हैं और आप बुरा भी सोच सकते हैं.आप छोटा भी सोच सकते हैं और बड़ा भी सोच सकते हैं. खुद को सोचने से कभी भी मत रोकिए, क्योंकि ऐसा आप नहीं कर पाएंगे. लेकिन हां खुद को क्या सोचना है इसका हमेशा ध्यान रखिए…

क्योंकि आपकी सोच ही वह जरिया है. जो आपके जीवन में सफलता या असफलता को खींच कर लाता है. तो अपने विचारों पर और अपनी सोच पर हमेशा नजर रखिए…

और एक आदत यह भी है,जो आपको कभी सुख से नहीं रहने देती…

वह है हमेशा दूसरों की तरफ देखने की, आप अपने साथ सबसे बड़ा अपराध तब करते हैं.
जब आप दूसरों के साथ खुद को कंपेयर करते हैं. आपको दूसरों से इंस्पायर होने का पूरा हक है.

लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप अपने आप के वजूद को भुलाकर, अपनी खुद की पहचान को मिटाकर, उसके जैसे बनने की कोशिश करें…

आपकी जिंदगी आपकी है और आप ही इसके बारे में सोच सकते हैं.
कोई दूसरा ना तो आपकी जिंदगी बदल सकता है.और ना ही इस पर हक जता सकता है तो…

दोस्तो अपनी पहचान से कभी भी समझौता न करें. किसी दूसरे की परछाईं बनने की कोशिश ना करें. खुद को पहचानने और अपने वजूद को हमेशा कायम रखने की कोशिश करें…

Read: अरबपतियों की सिख

क्योंकि कीमत उन्हीं का होता है जिसका वजूद होता है. परछाइयां हमेशा उजाले में गायब हो जाती है। अगर यह लेख अच्छा लगा तो लाइक शेयर कमेंट जरुर करें धन्यवाद.

इसे भी पढ़ें: अगर आप सच में अपनी लाइफ को कोई मकाम देना चाहते हैं,तो अपने मकसद को हमेशा याद रखना होगा।

3 replies on “खुशियों की चाहत हर कीसी को होता है. हर कोई चाहता है कि उसकी जिंदगी में”

Pretty nice post. I just stumbled upon your weblog and wanted to
say that I’ve really enjoyed surfing around your weblog posts.
In any case I’ll be subscribing for your rss feed and I am hoping you write again very soon!

Comments are closed.