Categories
Education

Rooh ki taqat ziyadh kaise Karen

Rooh ki taqat ziyadh kaise Karen by
Hazrat imam ali in Hindi रुह (आत्मा) परेशानियों से बचाना चाहते हो

इमाम अली रज़ि अल्लाह ताअला इन्हु के खिदमत में एक शख्स आया और दस्तेअदब को जोड़कर अर्ज़ करने लगा.Rooh ki taqat

या अली मैं हमेशा उदास रहता हूं, अपने अंदर अकेलापन, तन्हाई, और अपने उदासी को खत्म नहीं कर पाता, आखिर मेरे साथ ऐसा क्यों होता है, और यह उदासी कैसे खत्म होगी,

बस यह कहना था तो इमाम अली रज़ि अल्लाहु ताअला अन्हु ने फ़रमाया ऐ शख्स जिस इंसान के रूह़ (आत्मा) कमजोर होती है वह इंसान मायूस और उदास रहता है.Rooh ki taqat

उसने कहा या अली मेरी रूह कमजोर है तो मैं इसे कैसे ताकतवर बनाऊं?और रूह कमजोर कैसे हुई.

तो इमाम अली रज़ि अल्लाहु ताअला अन्हु ने फ़रमाया ऐ शख्स इंसान की एक गलती
जो वो बार-बार दोहराता रहता है वो ये है वह अपनी खुशी दूसरों में तलाश करता रहता है, अच्छे कपड़े पहनता है तो यह चाहता है कि उसकी तारीफ हो श, और जब उसकी तारीफ नहीं होती है तो उसे वो खुशी नहीं मिलती,Rooh ki taqat

और जब किसी से प्यार करता है और यह उम्मीद रखता है के बदले में मुझे वही प्यार मिले, जब प्यार नहीं मिलता तो उसे वो खुशी नहीं मिलती, हमदर्दी करता है, रहम करता है, फिक्र करता है.

यहां तक के अपने बच्चे की अच्छी परवरिश करता है, हर चीज में उसकी उम्मीद शामिल होती है के बदले में मुझे वही चीज मिलेगी, लेकिन वह तमाम चीजें उसे मयस्सर नहीं होती तो इंसान अंदर से टूटने लगता है, उदास रहने लगता है,
और यूं उसकी रूह (आत्मा) दिन-ब-दिन कमजोर होती जाती है.Rooh ki taqat

ऐ शख्स याद रखना अगर तुम यह चाहते हो के तुम्हारी यह रूह(आत्मा) अंदर से मजबूत हो और ताकतवर हो तो अपनी खुशी दुनियावी चीजों में तलाश ना करो बल्कि अपने अंदर तलाश करो.

अगर कोई तुम पर एतराज करें, कोई तुम पर तनकीद करें, कोई नेकी का बदले में, तुम्हें तकलीफ दे.

और तुम्हारी तारीफ कोई अगर ना भी करें, अगर तुम्हारा जमीर मूत्मइन है तो तुम उन तमाम चीजों को दर गुजर करके यह सोच लो कि अगर तुम खुश हो, तुम सही हो तो क्या फरक पड़ता है,

उम्मीद सिर्फ अपने आप से और अपने अल्लाह से जोरो, याद रखना बहादुर वह नहीं जो तलवार लेकर हजारों इंसानों को चीर दे, बल्कि बहादुर वह है जिसके वजूद में दरगुजर करने की ताकत हो.

Note: अगर हमारी जिंदगी में भी इस तरह की परेशानी है, तो हमें चाहिए कि हम भी इस बताई हुई तरीके पर अमल करें और अपने परेशानियों को दूर करें.

यह भी पढ़ें:-किसी भी इंसान के दिल में अपनी अच्छी बातें कैसे डालें.