Categories
Quotes

परेशानी को खत्म करें|The way to eliminate difficulties and troubles in hindi

मुश्किल और परेशानी को खत्म करने का तरीका.|The way to eliminate difficulties and troubles in hindi

सदक़ा मुश्किल और परेशानी को खत्म कर देती है.ह़ज़रत ईसा अलैहिस्सलाम के दौर में एक ऐसा हैरतअंगेज वाकया पेश आया जिसे सुनने के बाद दिल के अंदर बहुत सारी अच्छाइयां पैदा हो सकती है, तो चलिए शुरू करते हैं.

ह़ज़रत ईसा अलैहिस सलाम अपने साथियों के साथ रास्ते से गुज़र रहे थे, कि देखा एक औरत अपने बेटे से बहुत प्यार कर रही थी.

यह देखना था कि हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम के मुबारक आंखों में आंसू आ गए.

हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम के साथियों ने अर्ज़
ऐ अल्लाह के प्यारे नबी आप क्यों रो रहे हैं.

हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम ने फ़रमाया इसके बेटे के चेहरे पर यह लिखा है कि यह कल का दिन नहीं देखेगा यह मर जाएगा.

तो साथ-साथ ह़ज़रत ईसा अलैहिस्सलाम के साथ ही भी गमज़दा हो गए.

दो दिन के बाद उसी रास्ते से ह़ज़रत ईसा अलैहिस्सलाम और उनके साथियों का गुज़र हुआ तो देखे वही औरत उसी बेटे से उसी तरह से प्यार कर रही थी.

लोगों ने पूछा ऐ अल्लाह के प्यारे नबी है आपने तो फ़रमाया था कि इसका बेटा मर जाएगा.
लेकिन यह तो जिंदा है.

तो हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम ने फ़रमाया इसके बेटे की चेहरे पर तो मौत लिखी थी लेकिन मौत टल गई.

आओ चल के इसके मां से पूछते हैं कि इसके मां ने ऐसा क्या अमल किया की इसके बेटे की मौत टल गई.

हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम ने फ़रमाया और उसके साथी उस मां के क़रीब आते हैं, और अपना तार्रुफ़ कराने के बाद उनसे पूछते हैं.

उस मां ने कहा वैसे तो कोई खास अमल नहीं किया.
लेकिन कल जब मेरा बेटा घर से निकल रहा था तो मैंने हसबे तौफीक सदक़ा निकाल दिया था.

बस यह कहना था तो हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम ने फ़रमाया लोगों याद रखना.

इस सदक़ा की बरकत से अल्लाह पाक ने इसके बेटे के ऊपर से मौत टाल दी.

जो इंसान रोज़ पाबंदी से सदक़ा देगा तो बड़े से बड़े मुसीबत से बच जाएगा. इंशा अल्लाह

यह एक अच्छा लगा तो लाइक शेयर कमेंट जरुर करें और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें.

यह भी पढ़ें:इंसान एक चिराग़ के मीस्ल हैं